सांसद बने- मगर नहीं मिला सरकारी आवास, गेस्ट हाउस में रह रहे हनुमान बेनीवाल – कैलाश चौधरी

राजस्थान से सांसद चुने गए कैलाश चौधरी ( Kailash Choudhary ) और हनुमान बेनीवाल ( Hanuman Beniwal ) को लेकर बड़ी चौंकाने वाली खबर सामने आई है। सांसद बने आठ माह हो गया है लेकिन दोनों को अब तक सरकारी आवास नहीं मिल सके हैं। चौधरी-बेनीवाल की जोड़ी गेस्ट हाउस में रहने को मजबूर है।

राजस्थान से सांसद चुने गए कैलाश चौधरी ( Kailash Choudhary ) और हनुमान बेनीवाल ( Hanuman Beniwal ) को लेकर बड़ी चौंकाने वाली खबर सामने आई है। सांसद बने आठ माह हो गया है लेकिन दोनों को अब तक सरकारी आवास नहीं मिल सके हैं। चौधरी-बेनीवाल की जोड़ी गेस्ट हाउस में रहने को मजबूर है। सांसद कैलाश चौधरी तो केंद्र में मंत्री हैं, लेकिन अब तक उन्हें रहने के लिए सरकारी आवास पर कब्जा नहीं मिल सका है। बताया जा रहा है कि मंत्री को आवास तो आवंटित किया जा चुका है, लेकिन अभी तक इसके खाली नहीं होने से कब्जा नहीं मिल सका है। दूसरी ओर नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल को भी सरकारी आवास नहीं मिल सका है। ऐसे में दोनों ही सरकारी गेस्ट हाउस में रह रहे हैं। गेस्ट हाउस का बिल भी दोनों का लाखों रुपए का बन चुका है।

बाड़मेर-जैसलमेर से सांसद चुने गए कैलाश चौधरी केन्द्र में भाजपा की सरकार बनने के साथ ही 29 मई को केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री बनाए गए थे। लेकिन अब तक उन्हें सरकारी आवास नहीं मिल सका है। ऐसे में ये पूसा स्थित भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान (आइसीएआर) परिसर के गंगा इंटरनेशनल गेस्ट हाउस में रह रहे हैं।


सूत्रों के मुताबिक गेस्ट हाउस के किराए की बिल करीब 15 लाख बन चुका है। ऐसे में यहां उनके संसदीय क्षेत्र से आने वाले लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।


शेखावत के आवास पर प्रभु का वास
कैलाश चौधरी को मंत्री बनने के कुछ समय बाद ही उन्हें 22 मदर टेरेसा क्रिसेंट आवास आवंटित हो गया था। लेकिन केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत वहां पहले से रह रहे हैं। पिछली सरकार में शेखावत राज्य मंत्री थे और अब उन्हें कैबिनेट का दर्जा दिया गया है। ऐसे में उन्हें 12 अकबर रोड पर आवास आवंटित हुआ, जो पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश प्रभु के पास था। गत माह तक प्रभु यहीं जमे हुए थे जबकि उनको 19 तीन मूर्ति लेन का आवास आवंटित हो चुका है। तीन मूर्ति लेन स्थित इस आवास में पूर्व केंद्रीय मंत्री पीपी चौधरी रह रहे थे। पिछली सरकार में वे राज्य मंत्री थे और उसी नाते उन्हें यह आवास मिला था। अब मंत्री नहीं हैं लेकिन उन्हें अब यह सामान्य श्रेणी से पुन: आवंटित कर दिया गया है।

बेनीवाल ने राजस्थान हाउस में ही डाला हुआ पड़ाव
नागौर सांसद और राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (रालोपा) के प्रमुख हनुमान बेनीवाल भी शुरुआत से ही राजस्थान हाउस में ठहरे हुए हैं। आवास नहीं मिलने की वजह से उन्होंने अपने सहयोगियों और सुरक्षाकर्मियों के लिए भी यहीं लगातार कमरा लिया हुआ है। इस तरह इनका भी बिल काफी बन चुका है। बेनीवाल को साउथ एवेन्यू के सांसद आवास में फ्लैट आवंटित किया गया था लेकिन बड़े आवास की आवश्यकता का हवाला देकर उन्होंने इसे लेने से इंकार कर दिया।

वर्जन……
उम्मीद है बंगले का समाधान जल्दी हो जाएगा। आवास आवंटन तो हो गया लेकिन कुछ कारणों से उसमें अभी शिफ्टिंग नहीं कर सके हैं। अब रास्ता निकल जाएगा। – कैलाश चौधरी, केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.